एक छत के नीचे 'प्राइमरी का मास्टर' से जुड़ी शिक्षा विभाग
की समस्त सूचनाएं एक साथ

"BSN" प्राइमरी का मास्टर । Primary Ka Master. Blogger द्वारा संचालित.

Search Your City

लखनऊ : COVID-19 के बढ़ते संक्रमण के कारण UP में 21 से नहीं खुलेंगे स्कूल

0 comments
लखनऊ : COVID-19 के बढ़ते संक्रमण के कारण UP में 21 से नहीं खुलेंगे स्कूल

केंद्र सरकार की गाइडलाइन में कंटेनमेंट जोन के बाहर 21 सितंबर से कक्षा नौ से 12 तक के स्कूल खोलने की अनुमति दी गई है लेकिन प्रदेश में स्कूल नहीं खुलेंगे

लखनऊ, जेएनएन। कोरोना वायरस संक्रमण के दौरान अनलॉक 4.0 में भले ही केंद्र सरकार की गाइडलाइन में कंटेनमेंट जोन के बाहर 21 सितंबर से कक्षा नौ से 12 तक के स्कूल खोलने की अनुमति दी गई है, लेकिन उत्तर प्रदेश में स्कूल नहीं खुलेंगे। प्राइवेट स्कूल्स के इस फैसले के बाद से सरकारी स्कूल भी प्रदेश में बढ़ते कोरोना वायरस संक्रमण के कारण फिलहाल अभी नहीं खुलेंगे।कोरोना वायरस के बढ़ते संक्रमण के कारण उत्तर प्रदेश में 21 सितम्बर से आंशिक रूप से भी स्कूल-कॉलेज नहीं खुलेंगे। प्राइवेट के साथ ही सरकारी स्कूल्स को कोरोना वायरस से लगातार बढ़ते संक्रमण के कारण अभी खोलना संभव नहीं हो पा रहा है। प्रदेश के उपमुख्यमंत्री दिनेश शर्मा ने पहले ही ऐसे माहौल में स्कूल-कॉलेज खोलने में असमर्थता जता दी थी। इसके बाद ही प्रदेश में माध्यमिक शिक्षा विभाग के अधिकारियों ने इसकी पुष्टि की है। उन्होंने कहा कि प्रदेश में बढ़ते कोरोना के मामलों को देखते हुए स्कूल-कॉलेजोंको खोलना संभव नहीं है। इससे पहले प्रदेश के उपमुख्यमंत्री दिनेश शर्मा ने भी 21 सितंबर से प्रदेश में स्कूलों के खोले जाने पर असमर्थता जताई थी।कोरोना के बढ़ते मामलों को देखते हुए डॉ.दिनेश शर्मा ने कहा था कि 21 सितंबर से राज्य में आंशिक रूप से स्कूल खोलने की संभावना बहुत कम है। उन्होंने कहा था कि प्रदेश में कोरोना के केस लगातार बढ़ रहे हैं। ऐसे में कम से कम एक महीने तक तो आंशिक रूप से भी कार्य करने की अनुमति नहीं दी जा सकती। छात्र-छात्राओं की सुरक्षा सबसे ऊपर है और इससे किसी भी तरह समझौता नहीं किया जा सकता है। स्कूलों को खोलने पर फैसला मुख्यमंत्री की अध्यक्षता में होने वाली बैठक में लिया जाएगा।

स्कूल न खोलने के पक्ष में स्कूल एसोसिएशन

राजधानी लखनऊ के प्राइवेट स्कूल, एसोसिएशन ने प्रदेश में कोरोना संक्रमण के लगातार बढ़ रहे मामलों को देखते हुए स्कूल 21 सितंबर से न खोलने का फैसला लिया है। स्कूल एसोसिएशन के अध्यक्ष अनिल अग्रवाल ने बताया कि स्कूलों के स्तर पर तैयारियां पूरी की गई हैं, लेकिन वर्तमान स्थिति को देखते हुए फिलहाल अभी खोलने का फैसला नहीं लिया गया है। फिलहाल ऑनलाइन कक्षाओं के माध्यम से बच्चों की पढ़ाई जारी रहेगी।

बेसिक शिक्षा विभाग ने भी स्कूलों को खोलने के लिए बड़ा निर्णय लिया है। इसके तहत फिलहाल तो ऑनलाइन ही पढ़ाई होगी। इसके लिए एक टाइम टेबल बनाया गया है, जिसे स्कूलों के साथ साथ छात्रों को भी दिया जाएगा। टाइम टेबल के हिसाब से ही सभी शिक्षक ऑनलाइन क्लासेज लेंगे।

केंद्र सरकार की ओर से जारी दिशा निर्देशों के तहत 21 सितंबर से स्कूल खोले जाने को लेकर छूट दी गई है। इस क्रम में कई राज्यों में 21 सितंबर से स्कूल खोलने को लेकर हरी झंडी भी दी जा चुकी है। यूपी में बेसिक शिक्षा विभाग और प्राइवेट स्कूल ऑनलाइन शिक्षा ही मुहिया कराएंगे। गौरतलब है कि केंद्र सरकार ने अनलॉक 4.0 की गाइडलाइन्स जारी करते हुए राज्य सरकारों को कंटेनमेंट जोन के बाहर के स्कूलों-कॉलेजों को खोलने की अनुमति दे दी थी।

अनलॉक 4.0 में मिली थी अनुमति

अनलॉक 4.0 की गाइडलाइंस में 10वीं और 12वीं के छात्रों के स्कूल खोलने की अनुमति दी गई थी लेकिन उसमें कहा गया था कि इसमें पैरेंट्स की अनुमति होनी चाहिए। पैरेंट्स जब लिखकर देंगे तभी बच्चा स्कूल जा सकता है। केंद्र सरकार ने शिक्षा निदेशालय से एक फॉर्म के जरिए इस मामले में पैरेंट्स की राय जानने की सलाह दी थी। गूगल फॉर्म में ज्यादातर अभिवावकों ने अपने बच्चों को स्कूल भेजने से मना कर दिया है।

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

महत्वपूर्ण सूचना...


बेसिक शिक्षा परिषद के शासनादेश, सूचनाएँ, आदेश निर्देश तथा सभी समाचार एक साथ एक जगह...
सादर नमस्कार साथियों, सभी पाठकगण ध्यान दें इस ब्लॉग साईट पर मौजूद समस्त सामग्री Google Search, सोशल नेटवर्किंग साइट्स (व्हा्ट्सऐप, टेलीग्राम एवं फेसबुक) से भी लिया गया है। किसी भी खबर की पुष्टि के लिए आप स्वयं अपने मत का उपयोग करते हुए खबर की पुष्टि करें, उसकी पुरी जिम्मेदारी आपकी होगी। इस ब्लाग पर सम्बन्धित सामग्री की किसी भी ख़बर एवं जानकारी के तथ्य में किसी भी तरह की गड़बड़ी एवं समस्या पाए जाने पर ब्लाग एडमिन /लेखक कहीं से भी दोषी अथवा जिम्मेदार नहीं होंगे, सादर धन्यवाद।