एक छत के नीचे 'प्राइमरी का मास्टर' से जुड़ी शिक्षा विभाग
की समस्त सूचनाएं एक साथ

"BSN" प्राइमरी का मास्टर । Primary Ka Master. Blogger द्वारा संचालित.

Search Your City

लखनऊ : अल्पसंख्यक बाहुल्य इलाकों के स्कूल होंगे हाईटेक, मिलेंगी ये सुविधाएं

0 comments
लखनऊ : अल्पसंख्यक बाहुल्य इलाकों के स्कूल होंगे हाईटेक, मिलेंगी ये सुविधाएं
                                                                                                                                           
हिन्दुस्तान टीम,लखनऊ | अल्पसंख्यक बाहुल्य इलाकों के स्कूलों में सभी अवस्थापना सुविधाएं प्राथमिकता पर उपलब्ध कराई जाएंगी। जर्जर भवन की मरम्मत, पाइप पेयजल और फर्नीचर की व्यवस्था अनिवार्य रूप से की जाएगी। सर्व शिक्षा अभियान के राज्य परियोजना निदेशक विजय किरन आनंद ने 47 जिलों के बेसिक शिक्षा अधिकारियों से इस संबंध में प्रस्ताव मांगे हैं।श्री आनंद ने कहा है कि 47 जिलों के 145 ब्लॉकों, 89 नगरीय क्षेत्र और 15 जिला मुख्यालयों में प्रधानमंत्री जन विकास कार्यक्रम संचालित किया जा रहा है। अल्पसंख्यक बाहुल्य पिछड़े क्षेत्र में शिक्षा, स्वास्थ्य, पेयजल और कौशल विकास से संबंधित योजनाओं इसमें चलाई जाती हैं।चिह्नित क्षेत्रों में स्थित स्कूलों में जर्जर भवन के पुनर्निर्माण, नए स्कूलों के भवन निर्माण के प्रस्तावों के साथ शौचालय, अतिरिक्त कक्षा कक्षा या स्मार्ट क्लास के प्रस्ताव भी भेजे जाएंगे पाइप द्वारा पानी की सप्लाई के लिए सबमर्सिबल पम्प और फर्नीचर के प्रस्ताव भी जिला स्तरीय समिति के अनुमोदन के बाद भेजे जाएं ताकि इस प्रस्ताव को अल्पसंख्यक कल्याण निदेशालय के माध्यम से राज्य स्तरीय समिति को भेजा जा सके।

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

महत्वपूर्ण सूचना...


बेसिक शिक्षा परिषद के शासनादेश, सूचनाएँ, आदेश निर्देश तथा सभी समाचार एक साथ एक जगह...
सादर नमस्कार साथियों, सभी पाठकगण ध्यान दें इस ब्लॉग साईट पर मौजूद समस्त सामग्री Google Search, सोशल नेटवर्किंग साइट्स (व्हा्ट्सऐप, टेलीग्राम एवं फेसबुक) से भी लिया गया है। किसी भी खबर की पुष्टि के लिए आप स्वयं अपने मत का उपयोग करते हुए खबर की पुष्टि करें, उसकी पुरी जिम्मेदारी आपकी होगी। इस ब्लाग पर सम्बन्धित सामग्री की किसी भी ख़बर एवं जानकारी के तथ्य में किसी भी तरह की गड़बड़ी एवं समस्या पाए जाने पर ब्लाग एडमिन /लेखक कहीं से भी दोषी अथवा जिम्मेदार नहीं होंगे, सादर धन्यवाद।