एक छत के नीचे 'प्राइमरी का मास्टर' से जुड़ी शिक्षा विभाग
की समस्त सूचनाएं एक साथ

"BSN" प्राइमरी का मास्टर । Primary Ka Master. Blogger द्वारा संचालित.

Search Your City

लखनऊ : 3.60 लाख कर्मियों को चार महीने से नहीं मिला वेतन, लोगों में जबर्दस्त आक्रोश

0 comments
लखनऊ : 3.60 लाख कर्मियों को चार महीने से नहीं मिला वेतन, लोगों में जबर्दस्त आक्रोश

न्यूज डेस्क, अमर उजाला, लखनऊ बाल विकास एवं पुष्टाहार विभाग के करीब 3.60 लाख अधिकारियों व कर्मचारियों को पिछले चार महीने से वेतन नहीं मिल रहा है। होली में चंद दिन बचे होने के बावजूद वेतन भुगतान की कोई कार्रवाई न होने से कार्मिकों में जबर्दस्त नाराजगी है। सीडीपीओ संघ व राज्य कर्मचारी संघ ने एक सप्ताह में वेतन व मानदेय का भुगतान न होने पर आंदोलन की चेतावनी दी है।बाल विकास एवं पुष्टाहार विभाग में करीब 1.89 लाख आंगनबाड़ी कार्यकर्ता और 1.66 लाख सहायिकाएं तैनात हैं। इन्हें पीएफएमएस से मानदेय का भुगतान होता है। चार महीने से इन्हें मानदेय नहीं मिल रहा है। इसी तरह सीडीपीओ, डीपीओ, मुख्य सेविकाओं और सहायक सांख्यिकी कर्मचारी संवर्ग को मिलाकर करीब 5000 कर्मी हैं। इन्हें भी चार महीने से वेतन नहीं मिल रहा है।सीडीपीओ संघ के प्रदेश अध्यक्ष एके पांडेय का कहना है कि महंगाई के दौर में चार-चार महीने से वेतन न मिलने से सामान्य जीवन यापन मुश्किल हो गया है। उन्होंने बताया कि निदेशक बाल विकास एवं पुष्टाहार का आदेश है कि प्रत्येक माह की एक तारीख तक वेतन का भुगतान कर दिया जाए। लेकिन, बजट जारी न होने से वेतन व मानदेय का भुगतान नहीं हो रहा है। अधीनस्थ कर्मियों का मानदेय जारी न होने से काम लेना कठिन हो रहा है। इससे संवर्ग के समस्त कार्मिकों में जबर्दस्त नाराजगी है।

बकाया भुगतान करने की मांग की

पांडेय ने अपर मुख्य सचिव बाल विकास एवं पुष्टाहार तथा निदेशक को पूरी स्थिति से अवगत कराते हुए एक सप्ताह में होली से पूर्व पूरे चार महीने का बकाया वेतन का भुगतान कराने की मांग की है। उन्होंने कहा है कि यदि ऐसा नहीं हुआ तो कार्य बहिष्कार किया जाएगा, जिसकी पूरी जिम्मेदारी उच्चाधिकारियों की होगी।

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

महत्वपूर्ण सूचना...


बेसिक शिक्षा परिषद के शासनादेश, सूचनाएँ, आदेश निर्देश तथा सभी समाचार एक साथ एक जगह...
सादर नमस्कार साथियों, सभी पाठकगण ध्यान दें इस ब्लॉग साईट पर मौजूद समस्त सामग्री Google Search, सोशल नेटवर्किंग साइट्स (व्हा्ट्सऐप, टेलीग्राम एवं फेसबुक) से भी लिया गया है। किसी भी खबर की पुष्टि के लिए आप स्वयं अपने मत का उपयोग करते हुए खबर की पुष्टि करें, उसकी पुरी जिम्मेदारी आपकी होगी। इस ब्लाग पर सम्बन्धित सामग्री की किसी भी ख़बर एवं जानकारी के तथ्य में किसी भी तरह की गड़बड़ी एवं समस्या पाए जाने पर ब्लाग एडमिन /लेखक कहीं से भी दोषी अथवा जिम्मेदार नहीं होंगे, सादर धन्यवाद।